News

‘हार के जीतने वाले को बाजीगर कहते हैं’, केकेआर की हार में रिंकू सिंह ने जीता दिल

भले ही केकेआर (KKR) की टीम को हार का सामना करना पड़ा लेकिन रिंकू सिंह (Rinku Singh) ने अपनी बेहतरीन पारी से फैन्स का दिल जीत लिया.

रिंकू सिंह ने 15 गेंद पर 40 रन की पारी खेली और अपनी पारी में उन्होंने 2 चौके और 4 छक्का लगाए. एक समय ऐसा लगा कि रिंकू केकेआर को जीत दिला देंगे लेकिन आखिरी ओवर में इविन लुईस ने उनका एक कमाल का कैच लेकर उनकी यादगार पारी का अंत किया. आउट होने के बाद रिंकू थोड़े निराश भी दिखे और जब केकेआर को 2 रन से हार का सामना करना पड़ा तो उनके आंखों में आंसू थे. वहीं, उनके दोस्त नीतिश राणा उन्हें सांत्वना देते हुए दिखाई दिए. बता दें कि आखिरी गेंद पर केकेआर को 3 रन की दरकार थी. उमेश यादन ने स्टोइनिस (Marcus Stoinis) की आखिरी गेंद का सामना किया लेकिन गेंदबाज ने सही लाइन के साथ यॉर्कर फेंकी जिसे खेलने से उमेश मिस कर गए और बोल्ड हो गए. इसके साथ ही केकेआर को 2 रनों से हार का सामना करना पड़ा. वहीं, हार के साथ केकेआर का सफर समाप्त हो गया.

rinku singh

आखिरी ओवर में केकेआर को जीत के लिए 21 रन की दरकार थी. स्टोइनिस की पहली गेंद पर रिंकू ने चौका जमाया फिर दूसरी गेंद पर छक्का जमाया. इसके बाद तीसरी गेंद पर भी रिंकू के बल्ले से छक्के निकले. यहां से मैच केकेआर के गिरफ्त में थी. चौथी गेंद पर रिंकू ने 2 रन लिए और मैच को और करीब लेकर पहुंच गए. लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर थी.

स्टोइनिस की पांचवीं गेंद पर रिंकू ने हवाई शॉट मारा लेकिन बल्ले पर गेंद का संपर्क अच्छे से नहीं हुआ जिसके कारण गेंद हवा में डीप बैकवर्ड प्वाइंट की ओर गई जहां पर इविन लुईस (Evin Lewis) ने दौड़ लगाकर हवा में छलांग लगाकर एक हाथ से एक कमाल का कैच लेकर रिंकू की खूबसूरत पारी का अंत कर दिया. इस कैच को देखकर हर कोई हैरान था. इविन लुईस के इस कैच ने एक बार फिर साबित कर दिया कि ‘क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है.’

रिंकू 15 गेंद पर 40 रन बनाकर पवेलियन की ओर चल दिए. उनके चाल से साफ पता चल रहा था कि वो एक बड़ा करिश्मा करने से चूक गए थे. वहीं, जब उमेश यादव को स्टोइनिस ने आखिरी गेंद पर बोल्ड किया तो डगआउट में बैठे टीम के मेंटॉक गौतम गंभीर खुशी से झूम उठे. खैर केकेआर को हार जरूर मिली लेकिन रिंकू सिंह ने दिल जरूर जीत लिया.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button